Chhattisgarh: Fake Challan Racket Related To Tax Evasion Busted Patwari Arrested For Taking Bribe In Dhamtari – छत्तीसगढ़: 68 करोड़ की कर चोरी से जुड़े नकली चालान रैकेट का भंडाफोड़, धमतरी में पटवारी गिरफ्तार

Chhattisgarh: Fake Challan Racket Related To Tax Evasion Busted Patwari Arrested For Taking Bribe In Dhamtari – छत्तीसगढ़: 68 करोड़ की कर चोरी से जुड़े नकली चालान रैकेट का भंडाफोड़, धमतरी में पटवारी गिरफ्तार
hathakaugdha dama 1662911148 - Chhattisgarh: Fake Challan Racket Related To Tax Evasion Busted Patwari Arrested For Taking Bribe In Dhamtari - छत्तीसगढ़: 68 करोड़ की कर चोरी से जुड़े नकली चालान रैकेट का भंडाफोड़, धमतरी में पटवारी गिरफ्तार

सांकेतिक तस्वीर।
– फोटो : फाइल फोटो

ख़बर सुनें

केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर (सीजीएसटी) आयुक्तालय की रायपुर इकाई ने सात फर्जी फर्मों के खिलाफ फर्जी चालान जारी कर 68.04 करोड़ रुपये की कर चोरी का मामला दर्ज किया है। एक अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी। आधिकारिक बयान में कहा गया है कि आयुक्तालय ने इन नकली फर्मों के खिलाफ मामले दर्ज किए हैं, जो बिना किसी माल की वास्तविक आपूर्ति के छत्तीसगढ़ के भीतर और बाहर कई करदाताओं को इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) प्राप्त करने और पारित करने में शामिल हैं।

यह कार्रवाई जीएसटी के तहत फर्जी आईटीसी चालान जारी करने में लगे पक्षों के खिलाफ अभियान के तहत की गई। अधिकारी ने कहा कि इस फर्जी आईटीसी रैकेट में शामिल लोगों की जल्द ही पहचान कर ली जाएगी और उनके खिलाफ कानून के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी।

वहीं, धमतरी जिले में गुरुवार को कथित रिश्वतखोरी के आरोप में एक पटवारी (राजस्व अधिकारी) को गिरफ्तार किया गया है। एंटी करप्शन ब्यूरो की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमृता सोरी ने कहा कि कुरुद तहसील के राखीगांव में तैनात भूपेंद्र ध्रुव को जमीन के स्वामित्व के हस्तांतरण की मांग करने वाले एक व्यक्ति से 9,000 रुपये की रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया था।

अतिरिक्त एसपी ने कहा कि उसने 25,000 रुपये रिश्वत की मांग की थी और पहले ही 12,000 रुपये की किस्त ले चुका था। शिकायतकर्ता द्वारा एसीबी से संपर्क करने के बाद हमने जाल बिछाया और उसके कार्यालय में 9,000 रुपये लेते हुए उसे पकड़ लिया।

विस्तार

केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर (सीजीएसटी) आयुक्तालय की रायपुर इकाई ने सात फर्जी फर्मों के खिलाफ फर्जी चालान जारी कर 68.04 करोड़ रुपये की कर चोरी का मामला दर्ज किया है। एक अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी। आधिकारिक बयान में कहा गया है कि आयुक्तालय ने इन नकली फर्मों के खिलाफ मामले दर्ज किए हैं, जो बिना किसी माल की वास्तविक आपूर्ति के छत्तीसगढ़ के भीतर और बाहर कई करदाताओं को इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) प्राप्त करने और पारित करने में शामिल हैं।

यह कार्रवाई जीएसटी के तहत फर्जी आईटीसी चालान जारी करने में लगे पक्षों के खिलाफ अभियान के तहत की गई। अधिकारी ने कहा कि इस फर्जी आईटीसी रैकेट में शामिल लोगों की जल्द ही पहचान कर ली जाएगी और उनके खिलाफ कानून के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी।

वहीं, धमतरी जिले में गुरुवार को कथित रिश्वतखोरी के आरोप में एक पटवारी (राजस्व अधिकारी) को गिरफ्तार किया गया है। एंटी करप्शन ब्यूरो की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमृता सोरी ने कहा कि कुरुद तहसील के राखीगांव में तैनात भूपेंद्र ध्रुव को जमीन के स्वामित्व के हस्तांतरण की मांग करने वाले एक व्यक्ति से 9,000 रुपये की रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया था।

अतिरिक्त एसपी ने कहा कि उसने 25,000 रुपये रिश्वत की मांग की थी और पहले ही 12,000 रुपये की किस्त ले चुका था। शिकायतकर्ता द्वारा एसीबी से संपर्क करने के बाद हमने जाल बिछाया और उसके कार्यालय में 9,000 रुपये लेते हुए उसे पकड़ लिया।