Congress Bharat Jodo Yatra: Rahul Gandhi Press Conference Today In Kerala News In Hindi – कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव: गहलोत के सीएम पद पर संकट! होने वाले नए प्रमुख को राहुल ने दे डाली नसीहत

Congress Bharat Jodo Yatra: Rahul Gandhi Press Conference Today In Kerala News In Hindi – कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव: गहलोत के सीएम पद पर संकट! होने वाले नए प्रमुख को राहुल ने दे डाली नसीहत


ख़बर सुनें

भारत जोड़ो यात्रा के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज एक बार फिर मीडिया से मुखातिब हुए। इस दौरान उन्होंने 17 अक्तूबर को होने वाले कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव को लेकर अपनी चुप्पी तोड़ी। उन्होंने कहा कि मैं अपने पुराने रुख पर कायम हूं और मैं चुनाव लड़ने नहीं जा रहा हूं। बता दें कि 2019 में लोकसभा चुनाव में बुरी तरह से हार के बाद उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था।

राहुल के इशारे से गहलोत की कुर्सी पर बढ़ा संकट
राहुल गांधी ने इशारे- इशारे में कहा है कि अगर अशोक गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष बनते हैं तो उन्हें सीएम पद छोड़ना होगा। दरअसल, राहुल गांधी ने प्रेस वार्ता के दौरान आज ‘वन मैन वन पोस्ट’ का समर्थन कर दिया है। उन्होंने कहा कि हमने उदयपुर के चिंतन शिविर में जो वादा किया था उसे निभाया जाएगा। यानी राहुल एक व्यक्ति को एक पद से अधिक नहीं देना चाहते हैं।

राहुल ने होने वाले कांग्रेस अध्यक्ष को दी नसीहत
हालांकि राहुल गांधी ने होने वाले कांग्रेस के नए अध्यक्ष को पहले ही नसीहत दे डाली। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सिर्फ एक संगठनात्मक पद नहीं है, यह एक वैचारिक पद और एक विश्वास प्रणाली है। उन्होंने आगे कहा कि जो कोई भी कांग्रेस अध्यक्ष बनते हैं उन्हें याद रखना चाहिए कि वे एक ऐतिहासिक स्थान ले रहे हैं। एक ऐसा स्थान जो भारत के एक विशेष दृष्टिकोण को परिभाषित करती है। होने वाले कांग्रेस अध्यक्ष को विचारों के एक समूह, एक विश्वास प्रणाली और भारत के एक दृष्टिकोण का प्रतिनिधित्व  करना होगा।

तीन विचारों पर चल रही भारत जोड़ो यात्रा: राहुल गांधी
कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि यात्रा की सफलता कुछ विचारों पर आधारित है। पहला विचार यह है कि एक भारत अखंड खड़ा है, अपने आप से युद्ध में नहीं है, अपनों से नाराज नहीं है, नफरत से भरा नहीं है। यह(यात्रा) कुछ ऐसा है जिसकी अधिकांश भारतीय लोग सराहना करते हैं और पसंद करते हैं। दो अन्य विचार भी हैं जो यात्रा को आगे बढ़ा रहे हैं। एक है बेरोजगारी का स्तर, जिसका सामना आज भारत कर रहा है। तीसरा मुद्दा कीमतों का है। ये तीन विचार हैं जो यात्रा को आगे बढ़ा रहे हैं और प्रोत्साहित कर रहे हैं। ये विचार आपस में जुड़े हुए हैं 

विस्तार

भारत जोड़ो यात्रा के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज एक बार फिर मीडिया से मुखातिब हुए। इस दौरान उन्होंने 17 अक्तूबर को होने वाले कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव को लेकर अपनी चुप्पी तोड़ी। उन्होंने कहा कि मैं अपने पुराने रुख पर कायम हूं और मैं चुनाव लड़ने नहीं जा रहा हूं। बता दें कि 2019 में लोकसभा चुनाव में बुरी तरह से हार के बाद उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था।

राहुल के इशारे से गहलोत की कुर्सी पर बढ़ा संकट

राहुल गांधी ने इशारे- इशारे में कहा है कि अगर अशोक गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष बनते हैं तो उन्हें सीएम पद छोड़ना होगा। दरअसल, राहुल गांधी ने प्रेस वार्ता के दौरान आज ‘वन मैन वन पोस्ट’ का समर्थन कर दिया है। उन्होंने कहा कि हमने उदयपुर के चिंतन शिविर में जो वादा किया था उसे निभाया जाएगा। यानी राहुल एक व्यक्ति को एक पद से अधिक नहीं देना चाहते हैं।

राहुल ने होने वाले कांग्रेस अध्यक्ष को दी नसीहत

हालांकि राहुल गांधी ने होने वाले कांग्रेस के नए अध्यक्ष को पहले ही नसीहत दे डाली। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सिर्फ एक संगठनात्मक पद नहीं है, यह एक वैचारिक पद और एक विश्वास प्रणाली है। उन्होंने आगे कहा कि जो कोई भी कांग्रेस अध्यक्ष बनते हैं उन्हें याद रखना चाहिए कि वे एक ऐतिहासिक स्थान ले रहे हैं। एक ऐसा स्थान जो भारत के एक विशेष दृष्टिकोण को परिभाषित करती है। होने वाले कांग्रेस अध्यक्ष को विचारों के एक समूह, एक विश्वास प्रणाली और भारत के एक दृष्टिकोण का प्रतिनिधित्व  करना होगा।

तीन विचारों पर चल रही भारत जोड़ो यात्रा: राहुल गांधी

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि यात्रा की सफलता कुछ विचारों पर आधारित है। पहला विचार यह है कि एक भारत अखंड खड़ा है, अपने आप से युद्ध में नहीं है, अपनों से नाराज नहीं है, नफरत से भरा नहीं है। यह(यात्रा) कुछ ऐसा है जिसकी अधिकांश भारतीय लोग सराहना करते हैं और पसंद करते हैं। दो अन्य विचार भी हैं जो यात्रा को आगे बढ़ा रहे हैं। एक है बेरोजगारी का स्तर, जिसका सामना आज भारत कर रहा है। तीसरा मुद्दा कीमतों का है। ये तीन विचार हैं जो यात्रा को आगे बढ़ा रहे हैं और प्रोत्साहित कर रहे हैं। ये विचार आपस में जुड़े हुए हैं