Congress Leader Deepika Pandey Took Water Samadhi Said Repair Nh-133 Nishikant Dubey – Jharkhand: जल सत्याग्रह पर बैठीं कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय, कहा- मेरी मांग पूरी करो तब ही यहां से जाऊंगी

Congress Leader Deepika Pandey Took Water Samadhi Said Repair Nh-133 Nishikant Dubey – Jharkhand: जल सत्याग्रह पर बैठीं कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय, कहा- मेरी मांग पूरी करो तब ही यहां से जाऊंगी


ख़बर सुनें

झारखंड की सियासत किसी न किसी कारण से हमेशा सुर्खियों में रहती है। ताजा मामला है महगामा विधानसभा क्षेत्र की जहां की कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय सिंह अचानक सड़क पर जमा पानी में बैठकर धरना देने लगीं। लोगों के मान मनौव्वल के बावजूद मानने को तैयार नहीं थीं। सबसे हैरानी की बात यह थी कि वह अपनी सरकार को घेरने के बजाय भाजपा सांसद निशिकांत दुबे पर भड़क गईं और खरी-खोटी सुना दी। उन्होंने कहा कि जब तक मेरी मांग नहीं मानी जाती तब तक मैं पानी में ही सत्याग्रह करूंगी।

जानें क्या है विधायक की मांग?
कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय सिंह का कहना है कि सड़क निर्माण और मरम्मत का कार्य केंद्र सरकार के अधीन है लेकिन राष्ट्रीय राजमार्ग-133 की मरम्मत को टाला जा रहा है। मई महीने में इस सड़क का कांट्रैक्ट दिया गया था लेकिन अब तक इस पर काम शुरू नहीं हुआ है। NHAI का कार्य अब तक शुरू क्यों नहीं हुआ? जब तक इस पर काम शुरू नहीं होगा तब तक हम यहां से नहीं उठेंगे।

गोड्डा के भाजपा सांसद निशिकांत दुबे पर साधा निशाना
कांग्रेस विधायक ने गोड्डा से भाजपा सांसद निशिकांत दुबे को जमकर खड़ी-खोटी सुनाई। उन्होंने कहा कि सड़क मरम्मती का काम यहां के सांसद निशिकांत दुबे को कराना चाहिए था। लेकिन उनसे उम्मीद करना बेवकूफी है। उन्होंने कहा कि मामला राज्य सरकार का नहीं है फिर भी वो सीएम हेमंत सोरन से गुजारिश करती हैं कि वो इस मामले में संज्ञान लें और सड़क मरम्मती का रास्ता निकालें।

निर्माण करवाना राज्य सरकार का काम, पैसे दिए जा चुके हैं: निशिकांत दुबे
भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने कहा कि महगामा की कांग्रेस विधायक मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के खिलाफ धरने पर बैठीं हैं,यह नेशनल हाइवे स्टेट पथ निर्माण विभाग रख रखाव करता है । इसका पैसा केंद्र सरकार ने  75 करोड़ 6 महीने पहले दे रखा है। राज्य सरकार का पथ निर्माण विभाग जिसके मंत्री हेमंत सोरेन जी के लापरवाही या कमीशन खोरी के कारण नहीं बन पा रहा है । इसके पहले भी कांग्रेस महगामा दिग्घी पथ पर धान रोप चुकी है,मैंने उस दिन भी कहा था कि यह राज्य सरकार का रोड है,कल ही इस पथ का शिलान्यास मुख्यमंत्री जी ने किया,विधायक जी भी साथ थीं।

विस्तार

झारखंड की सियासत किसी न किसी कारण से हमेशा सुर्खियों में रहती है। ताजा मामला है महगामा विधानसभा क्षेत्र की जहां की कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय सिंह अचानक सड़क पर जमा पानी में बैठकर धरना देने लगीं। लोगों के मान मनौव्वल के बावजूद मानने को तैयार नहीं थीं। सबसे हैरानी की बात यह थी कि वह अपनी सरकार को घेरने के बजाय भाजपा सांसद निशिकांत दुबे पर भड़क गईं और खरी-खोटी सुना दी। उन्होंने कहा कि जब तक मेरी मांग नहीं मानी जाती तब तक मैं पानी में ही सत्याग्रह करूंगी।

जानें क्या है विधायक की मांग?

कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय सिंह का कहना है कि सड़क निर्माण और मरम्मत का कार्य केंद्र सरकार के अधीन है लेकिन राष्ट्रीय राजमार्ग-133 की मरम्मत को टाला जा रहा है। मई महीने में इस सड़क का कांट्रैक्ट दिया गया था लेकिन अब तक इस पर काम शुरू नहीं हुआ है। NHAI का कार्य अब तक शुरू क्यों नहीं हुआ? जब तक इस पर काम शुरू नहीं होगा तब तक हम यहां से नहीं उठेंगे।

गोड्डा के भाजपा सांसद निशिकांत दुबे पर साधा निशाना

कांग्रेस विधायक ने गोड्डा से भाजपा सांसद निशिकांत दुबे को जमकर खड़ी-खोटी सुनाई। उन्होंने कहा कि सड़क मरम्मती का काम यहां के सांसद निशिकांत दुबे को कराना चाहिए था। लेकिन उनसे उम्मीद करना बेवकूफी है। उन्होंने कहा कि मामला राज्य सरकार का नहीं है फिर भी वो सीएम हेमंत सोरन से गुजारिश करती हैं कि वो इस मामले में संज्ञान लें और सड़क मरम्मती का रास्ता निकालें।

निर्माण करवाना राज्य सरकार का काम, पैसे दिए जा चुके हैं: निशिकांत दुबे

भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने कहा कि महगामा की कांग्रेस विधायक मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के खिलाफ धरने पर बैठीं हैं,यह नेशनल हाइवे स्टेट पथ निर्माण विभाग रख रखाव करता है । इसका पैसा केंद्र सरकार ने  75 करोड़ 6 महीने पहले दे रखा है। राज्य सरकार का पथ निर्माण विभाग जिसके मंत्री हेमंत सोरेन जी के लापरवाही या कमीशन खोरी के कारण नहीं बन पा रहा है । इसके पहले भी कांग्रेस महगामा दिग्घी पथ पर धान रोप चुकी है,मैंने उस दिन भी कहा था कि यह राज्य सरकार का रोड है,कल ही इस पथ का शिलान्यास मुख्यमंत्री जी ने किया,विधायक जी भी साथ थीं।