RPCAU Recruitment: Two vacancies in Agricultural University appointment on three posts

RPCAU Recruitment: Two vacancies in Agricultural University appointment on three posts


RPCAU Recruitment : डॉ. राजेन्द्र प्रसाद केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय में नियुक्ति में गड़बड़ी का मामला सामने आया है। उपकुलसचिव के दो पदों के लिए वैकेंसी निकली थी लेकिन नियुक्ति तीन लोगों की गई है। इस मामले की विश्वविद्यालय के विजिटर व राष्ट्रपति से शिकायत करने के साथ जांच कराने का आग्रह किया गया है।

पूसा प्रखंड के मलिकौर निवासी व समाजसेवी देवनंदन राय ने राष्ट्रपति को भेजे गये पत्र में आरोप लगाया है कि विश्वविद्यालय में विज्ञापन की शर्तों की अनदेखी कर मनचाहे लोगों की नियुक्ति की गयी है। पत्र में कहा गया है कि 5 मई 2018 को विश्वविद्यालय ने उपकुलसचिव (शिक्षा) व उपकुलसचिव (स्थापना) के दो पदों पर प्रतिनियुक्ति के लिए विज्ञापन निकला था। आवेदन के लिए अन्य योग्यताओं के साथ 5400 ग्रेड पे वाले कर्मी को 5 वर्ष का अनुभव जरूरी था। लेकिन नियुक्तियों में इसका पालन नहीं किया गया। कहा गया है कि दो पद के लिए निकाली गई वैकेंसी के नाम पर तीन पदों पर नियुक्ति की गयी। इसमें से एक ही विश्वविद्यालय की नियुक्ति की अर्हता पूरी करते हैं जबकि दो अर्हता से बाहर हैं।

शिकायतकर्ता ने राष्ट्रपति को भेजे पत्र में यह भी कहा है कि इन दोनों को बाद में नियमित करने में भी गड़बड़ी की गयी। दोनों ही अधिकारियों की नियमित नियुक्ति की स्वीकृति 11.9.2020 की प्रबंध बोर्ड की बैठक में दी गई। लेकिन प्रबंध बोर्ड की स्वीकृति मिलते ही विभागीय कागजी प्रक्रिया इतनी तेज चली कि उसी दिन अधिकारियो ने योगदान भी कर लिया। जबकि तत्कालीन कुलसचिव डॉ.एमएन झा ने बोर्ड की कार्यवाही 16 सितम्बर को कुलपति के अनुमोदन के बाद निर्गत किया था। ऐसे में बोर्ड के प्रस्ताव की प्रोसिंडिग निकले बगैर, नियुक्ति को लेकर संचिका तैयार करना, ऑफर ऑफ एम्प्लायमेंट बनाना समेत अन्य प्रक्रियायें पूर्ण कर सभी कार्य उसी दिन हो जाना सवाल को जन्म देता है।