Taiban Govt Says Jem Chief Azhar Not In Afghanistan Asserts Such Terrorist Outfit Can Operate On Pakistan Soil – तालिबान का दावा: पाकिस्तान से जमीं से गतिविधियों को अंजाम देते हैं आतंकी, जैश सरगना मसूद अजहर हमारे यहां नहीं

Taiban Govt Says Jem Chief Azhar Not In Afghanistan Asserts Such Terrorist Outfit Can Operate On Pakistan Soil – तालिबान का दावा: पाकिस्तान से जमीं से गतिविधियों को अंजाम देते हैं आतंकी, जैश सरगना मसूद अजहर हमारे यहां नहीं


ख़बर सुनें

अफगानिस्तान की तालिबान सरकार ने पाकिस्तान में पल रहे आतंकवाद को लेकर बड़ा दावा किया है। तालिबान ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर की अफगानिस्तान में मौजूदगी से इनकार किया और आरोप लगाया कि ऐसे आतंकवादी संगठन पाकिस्तान की जमीन से संचालित हो सकते हैं। इतना ही नहीं ऐसे संगठन पाकिस्तान में सरकारी संरक्षण में अपना काम जारी रख सकते हैं।

गौरतलब है कि पाकिस्तानी मीडिया में जैश प्रमुख अजहर के अफगानिस्तान में होने से जुड़े दावे किए गए थे। खबरों में यह भी कहा गया था कि पाकिस्तान ने अफगानिस्तान तालिबान को एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें मसूद अजहर को सौंपने की मांग की गई है। इससे पहले पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के एक उच्चाधिकारी ने कहा था, ‘‘हमने अफगानिस्तान के विदेश मंत्रालय को एक पन्ने का पत्र लिखा है, जिसमें उन्हें मसूद अजहर का पता लगाने और गिरफ्तार करने के लिए कहा गया है, क्योंकि हम मानते हैं कि वह अफगानिस्तान में कहीं (पूर्वी नंगरहार प्रांत) में छिपा हुआ है।’’ 

इसी पर प्रतिक्रिया में तालिबान की अंतरिम सरकार के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने पाकिस्तान पर निशाना साधा। मुजाहिद ने अफगानिस्तान के ‘टोलो न्यूज’ को दिए इंटरव्यू में कहा कि उन्होंने पाकिस्तानी मीडिया में आई खबरें देखी हैं। मुजाहिद ने कहा, ‘‘लेकिन, यह सच नहीं है। किसी ने भी हमसे ऐसी मांग नहीं की है।’’

मुजाहिद ने कहा, ‘‘जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख अफगानिस्तान में नहीं है। ऐसे संगठन पाकिस्तान की जमीन से संचालन कर सकते हैं – और यहां तक कि आधिकारिक संरक्षण में भी।’’ प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम किसी को भी, किसी दूसरे देश के खिलाफ अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं देंगे।’’

विस्तार

अफगानिस्तान की तालिबान सरकार ने पाकिस्तान में पल रहे आतंकवाद को लेकर बड़ा दावा किया है। तालिबान ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर की अफगानिस्तान में मौजूदगी से इनकार किया और आरोप लगाया कि ऐसे आतंकवादी संगठन पाकिस्तान की जमीन से संचालित हो सकते हैं। इतना ही नहीं ऐसे संगठन पाकिस्तान में सरकारी संरक्षण में अपना काम जारी रख सकते हैं।

गौरतलब है कि पाकिस्तानी मीडिया में जैश प्रमुख अजहर के अफगानिस्तान में होने से जुड़े दावे किए गए थे। खबरों में यह भी कहा गया था कि पाकिस्तान ने अफगानिस्तान तालिबान को एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें मसूद अजहर को सौंपने की मांग की गई है। इससे पहले पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के एक उच्चाधिकारी ने कहा था, ‘‘हमने अफगानिस्तान के विदेश मंत्रालय को एक पन्ने का पत्र लिखा है, जिसमें उन्हें मसूद अजहर का पता लगाने और गिरफ्तार करने के लिए कहा गया है, क्योंकि हम मानते हैं कि वह अफगानिस्तान में कहीं (पूर्वी नंगरहार प्रांत) में छिपा हुआ है।’’ 

इसी पर प्रतिक्रिया में तालिबान की अंतरिम सरकार के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने पाकिस्तान पर निशाना साधा। मुजाहिद ने अफगानिस्तान के ‘टोलो न्यूज’ को दिए इंटरव्यू में कहा कि उन्होंने पाकिस्तानी मीडिया में आई खबरें देखी हैं। मुजाहिद ने कहा, ‘‘लेकिन, यह सच नहीं है। किसी ने भी हमसे ऐसी मांग नहीं की है।’’

मुजाहिद ने कहा, ‘‘जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख अफगानिस्तान में नहीं है। ऐसे संगठन पाकिस्तान की जमीन से संचालन कर सकते हैं – और यहां तक कि आधिकारिक संरक्षण में भी।’’ प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम किसी को भी, किसी दूसरे देश के खिलाफ अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं देंगे।’’