Uttarakhand Politics: Pithoragarh Congress Mla Mayukh Mehar Resigns From Pcc – Uttarakhand Politics: कांग्रेस में मची खलबली, अभिषेक के बाद अब मयूख महर ने दिया पीसीसी से इस्तीफा

Uttarakhand Politics: Pithoragarh Congress Mla Mayukh Mehar Resigns From Pcc – Uttarakhand Politics: कांग्रेस में मची खलबली, अभिषेक के बाद अब मयूख महर ने दिया पीसीसी से इस्तीफा


ख़बर सुनें

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के बेटे अभिषेक के बाद अब पिथौरागढ़ विधायक मयूख महर ने भी प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) से इस्तीफा दे दिया है। अभिषेक ने अपने इस्तीफे के पीछे पीसीसी सदस्य चयन में वरिष्ठ और जनाधार वाले नेताओं की अनदेखी को कारण बताया है। इन इस्तीफों से कांग्रेस में खलबली मची है।

Uttarakhand: धामी कैबिनेट में हो सकता है बड़ा फेरबदल, हाईकमान ने मांगी मंत्रियों और विधायकों की रिपोर्ट

कांग्रेस के युवा नेता अभिषेक सिंह का कहना है कि पीसीसी की लिस्ट जारी होने के बाद से कई वरिष्ठ नेता नाराज नजर आ रहे हैं। कांग्रेस परिवार को कोई नुकसान न हो, इसलिए मेरी जगह किसी वरिष्ठ नेता को नामित कर दिया जाए।

वहीं, पिथौरागढ़ विधायक मयूख महर ने भी प्रदेश कांग्रेस कमेटी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। हालांकि उनका कहना है की उनकी किसी से कोई नाराजगी नहीं है। उन्होंने कहा कि विधायकों को पीसीसी में पद देकर अन्य कार्यकर्ताओं का हक मारा जा रहा है। जबकि पूर्व में पीसीसी की बैठक यह तय हो चुका है कि एक व्यक्ति एक पद के फार्मूले पर ही पार्टी को आगे बढ़ाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि यदि पार्टी में नए लोगों को जगह मिलती है तो वह अपने साथ चार ओर लोगों को जोड़ते हैं। बताया जा रहा है कि कांग्रेस ने दो दिन पहले पीसीसी की लिस्ट जारी की थी, जिससे कई नेता नाराज चल रहे हैं। माना जा रहा है कि अभिषेक और मयूख महर के बाद कुछ अन्य भी इस्तीफा देने की तैयारी में हैं।

मयूख महर हमारे बहुत मजबूत साथी हैं और पिथौरागढ़ के अंदर उनके बिना कांग्रेस की कल्पना करना भी मुश्किल है। मैं खुद पीसीसी का सदस्य नहीं हूं। ऐसा हो सकता है कि 2024 के चुनाव के तहत कोई नया खाका तैयार किया गया हो।
– प्रीतम सिंह, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, कांग्रेस

विस्तार

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के बेटे अभिषेक के बाद अब पिथौरागढ़ विधायक मयूख महर ने भी प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) से इस्तीफा दे दिया है। अभिषेक ने अपने इस्तीफे के पीछे पीसीसी सदस्य चयन में वरिष्ठ और जनाधार वाले नेताओं की अनदेखी को कारण बताया है। इन इस्तीफों से कांग्रेस में खलबली मची है।

Uttarakhand: धामी कैबिनेट में हो सकता है बड़ा फेरबदल, हाईकमान ने मांगी मंत्रियों और विधायकों की रिपोर्ट

कांग्रेस के युवा नेता अभिषेक सिंह का कहना है कि पीसीसी की लिस्ट जारी होने के बाद से कई वरिष्ठ नेता नाराज नजर आ रहे हैं। कांग्रेस परिवार को कोई नुकसान न हो, इसलिए मेरी जगह किसी वरिष्ठ नेता को नामित कर दिया जाए।

वहीं, पिथौरागढ़ विधायक मयूख महर ने भी प्रदेश कांग्रेस कमेटी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। हालांकि उनका कहना है की उनकी किसी से कोई नाराजगी नहीं है। उन्होंने कहा कि विधायकों को पीसीसी में पद देकर अन्य कार्यकर्ताओं का हक मारा जा रहा है। जबकि पूर्व में पीसीसी की बैठक यह तय हो चुका है कि एक व्यक्ति एक पद के फार्मूले पर ही पार्टी को आगे बढ़ाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि यदि पार्टी में नए लोगों को जगह मिलती है तो वह अपने साथ चार ओर लोगों को जोड़ते हैं। बताया जा रहा है कि कांग्रेस ने दो दिन पहले पीसीसी की लिस्ट जारी की थी, जिससे कई नेता नाराज चल रहे हैं। माना जा रहा है कि अभिषेक और मयूख महर के बाद कुछ अन्य भी इस्तीफा देने की तैयारी में हैं।

मयूख महर हमारे बहुत मजबूत साथी हैं और पिथौरागढ़ के अंदर उनके बिना कांग्रेस की कल्पना करना भी मुश्किल है। मैं खुद पीसीसी का सदस्य नहीं हूं। ऐसा हो सकता है कि 2024 के चुनाव के तहत कोई नया खाका तैयार किया गया हो।

– प्रीतम सिंह, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, कांग्रेस